एक और चिटफंड के डायरेक्टर गिरफ्तार.....पुलिस की डर से ये डायरेक्टर अपना ठिकाना बदलकर रहता था.....सायबर टीम ने आखिरकार ढूंढ निकाला....पढ़िए पूरी खबर.......! - state-news.in
ad inner footer

एक और चिटफंड के डायरेक्टर गिरफ्तार.....पुलिस की डर से ये डायरेक्टर अपना ठिकाना बदलकर रहता था.....सायबर टीम ने आखिरकार ढूंढ निकाला....पढ़िए पूरी खबर.......!


MRS GROUP 

धमतरी 25 फरवरी 2022 :- चिटफंड कंपनी के द्वारा अधिक लाभांश देने का लालच देकर निवेशकों के लाखों करोड़ों रूपये डूबा चुके निवेशकों के रूपये वापस दिलाये जाने को लेकर प्रदेश के मुख्यमंत्री के मंशानुरूप पुलिस अधीक्षक धमतरी प्रशांत ठाकुर द्वारा लंबित चिटफंड मामलों को लेकर काफी गंभीर है, वे स्वयं लंबित प्रकरणों की समीक्षा कर प्रकरण के फरार आरोपियों की पतासाजी, गिरफ्तारी के लिये एडिशनल एसपी.निवेदिता पॉल को ‍दिगर प्रांत पुलिस टीम भेजने की जिम्मेदारी सौंपी गई है ।

थाना प्रभारियों द्वारा फरार आरोपियों के संबंध में लगातार पतासाजी कर जानकारी जुटाई जा रही है। इसी क्रम में जिले के कई निवेशकों के लाखों रूपये चिटफंड कम्पनी में जमा कराकर फरार हुये है, जिसमें शुष्क इंडिया सेल्स प्रा०लि० कम्पनी के डायरेक्टर-अमित कुमार जैन पिता- अमर प्रकाश जैन, साकीन

सेक्टर 02-B-स्कीम-136 इंदौर  (म.प्र.) को सायबर पुलिस टीम द्वारा इंदौर (म.प्र.)से विधिवत गिरफ्तार किया गया। थाना कोतवाली के अप.क्र. 130/2018 धारा 420, 120बी,467,468,IPC एवं प्राइज चीटस एण्ड मनी सरकुलेशन स्कीमस (बेनिंग) एक्ट, 1978 की धारा 4,5,6 तथा छ.ग. निक्षेपकों के संरक्षण अधिनियम की धारा 6,10 में गिरफ्तार कर रिमांड पर भेजा गया है । 

चिटफंड को लेकर थाना कोतवाली में आवेदक रघुराम यादव पिता स्व.झल्लू राम यादव उम्र 47 वर्ष निवासी डोंगाडुला द्वारा द्वारा वर्ष 2018 को लिखित शिकायत दिया गया था जिसमें शुष्क इंडिया सेल्स प्रा.लि. चिटफंड कम्पनी को एक लाख दस हजार रूपये निवेश किया गया था। 

इसमें कुल 11 आरोपी हैं जिसमें पूर्व में मेन डायरेक्टर सहित चार आरोपी भी पकड़े जा चूके हैं ये पॉचवां आरोपी है जो पकड़ा गया है ।

 पुलिस अधीक्षक धमतरी प्रशांत ठाकुर के दिशा निर्देशन पर लगातार आरोपियों की पतासाजी की जा रही है। गिरफ्तारी में सायबर टीम से उप निरीक्षक नरेश बंजारे,सउनि०अनिल यदु ,सउनि०राजेंद्र सोरी कोतवाली,आर०मुकेश मिश्रा ,आर०जयराज साहू की अहम भूमिका रही है ।

Previous article
Next article

Articles Ads

Articles Ads 1

Articles Ads 2

Advertisement Ads