भाजपा का 22 को प्रदेश स्तरीय हल्ला बोल, सभी जिलों में करेंगे धरना प्रदर्शन और कलेक्ट्रेट घेराव - state-news.in
ad inner footer

भाजपा का 22 को प्रदेश स्तरीय हल्ला बोल, सभी जिलों में करेंगे धरना प्रदर्शन और कलेक्ट्रेट घेराव

 


रायपुर। छत्तीसगढ़ भाजपा 22 जनवरी को प्रदेश स्तरीय धरना प्रदर्शन करने जा रही है। पार्टी धान खरीदी में प्रदेश सरकार की विफलता को लेकर सभी जिलों में धरना प्रदर्शन करेगी और कलेक्ट्रेट का घेराव करेगी। पार्टी प्रदेश प्रभारी डी पुरेन्द्रश्वरी भी रायपुर पहुंचकर धरने में शामिल होगी।

भाजपा ने आज सभी जिलों में प्रेसवार्ता कर धरना प्रदर्शन की रणनीति की जानकारी दी। प्रेसवार्ता में बताया गया कि सरकार किसानों का धान समर्थन मूल्य पर खरीदने में पूरी तरह असफल रही, भाजपा इसका विरोध करेगी और किसानों का धान अविलंब खरीदने और उनका भुगतान यथाशीघ्र करने की मांग करेगी। 


गरियाबंद जिले में प्रेसवार्ता लेने पहुंचे पार्टी नेता केदार गुप्ता ने बताया कि छत्तीसगढ़ की कांग्रेस सरकार की नीति और नियत साफ नही है। जिसका खामियाजा प्रदेश के किसानों को भुगतना पड़ रहा है। सरकार किसानों का धान नही खरीद पा रही है और उसका ठिकरा केन्द्र सरकार पर फोड़कर अपनी जिम्मेदारी से बचने का प्रयास कर रही है।

उन्होंने कहा कि सरकार की गलत नीतियों के कारण ही 26 महीने में 27 हजार करोड़ का लोन ले चुकी है। उन्होंने अपनी भाजपा सरकार की तुलना करते हुए बताया कि 15 साल में उनकी सरकार ने 35 हजार करोड़ का लोन लिया जबकि वर्तमान सरकार अल्पावधि में ही भारी भरकम लोन ले चुकी है। यह उनकी गलत नीतियों का ही प्रणाम है। 


मीडिया से चर्चा करते हुए केदार गुप्ता ने बताया कि भाजपा किसानों के लिए सड़क की लड़ाई लड़ने को तैयार है। 22 जनवरी को पार्टी सभी जिलों में धरना प्रदर्शन करेगी और कलेक्ट्रेट का घेराव करेगी। उसके बाद भी यदि सरकार ने अपनी नीति में परिवर्तन नही किया तो भाजपा आगे और उग्र आंदोलन करेगी।

हालांकि इस दौरान केदार गुप्ता कांग्रेस की तारीफ भी कर बैठे। जब वे छत्तीसगढ़ सरकार को धान खरीदी में निकमा साबित करने में जुटे थे तो उस समय उदाहरण देते समय वे पंजाब की कांग्रेस सरकार की तारीफ भी कर बैठे। उन्होंने कहा कि वहां की कांग्रेस सरकार किसानों का धान बेहतर तरीके से खरीद रही है। 

इसके अलावा पत्रकारों के सवालों का जवाब देते हुए भाजपा नेता ने बताया कि सरकार सभी मामलों में विफल साबित हो रही है। केंद्र सरकार द्वारा जारी 5 लाख पीएम आवास राज्य सरकार की उदासीनता के चलते मूर्तरूप नही ले आए रहे है।

बैठक में बिन्द्रानवागढ़ विधायक डमरूधर पुजारी, जिलाध्यक्ष राजेश साहू, नगरपालिका अध्यक्ष गफ्फू मेमन, मंडल अध्यक्ष सुरेन्द्र सोनटके और मीडिया प्रभारी राधेश्याम सोनवानी भी उपस्थित रहे।

Previous article
Next article

Articles Ads

Articles Ads 1

Articles Ads 2

Advertisement Ads